Breaking News

Rajkumar Aggarwal


सामाजिक मुद्दों के सहारे केजरीवाल की जाटलैंड में एंट्री
पहली बार कोई सीएम राजनीतिक रैली के बगैर कर रहा सियासी जमीन मजबूत
देवीलाल, हुड्डा, चौटाला, को जींद से मिली है सियासी मजबूती
                                 ====राजकुमार अग्रवाल ====
हरियाणा की राजनीति का केंद्र बिंदु माने जाने वाले जींद अथवा जाटलैंड में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने समामाजिक व जनहित के मुद्दे उठाकर धमाकेदार एंट्री की है। केजरीवाल रविवार को दूसरी बार जींद में थे। केजरीवाल यहां एन्हांसमैंट के विरोध में प्रदेश के सैक्टर वासियों द्वारा आयोजित राज्य स्तरीय रैली को संबोधित करने आए थे। यह आयोजन जहां पूरी तरह से गैर राजनीतिक था, वहीं इसमे प्रदेश भर से आये उन लोगों ने भाग लिया जो सरकार द्वारा बसाए सेक्टरों में रह रहे हैं। यह पहला मौका है जब कोई मुख्यमंत्री सामाजिक मुद्दों के सहारे राजनीतिक रैली किये बगैर अपनी सियासी जमीन को मजबूत करने में लगे है। केजरीवाल इससे पहले जींद में आयोजित अग्रवाल समाज के एक बड़े परिचय सम्मेलन में बतौर मुख्य अतिथि भाग लेने के लिए आए थे। दिल्ली के मुख्यमंत्री के जींद दौरे के कई राजनीतिक मायने हैं। जींद को हार्ट ऑफ हरियाणा भी कहा जाता है। प्रदेश में अब तक सत्ता संभालने वाले सभी राजनीतिक दलों ने जींद में राजनीतिक रैलियों का आयोजन करके सियासी शक्ति हासिल की है लेकिन केजरीवाल पहले ऐसे नेता हैं जिन्होंने सामाजिक कार्यक्रम के माध्यम से जींद की धरती पर मजबूत कदम रखा है। इससे पहले चौटाला, हुड्डा, देवीलाल, बंसीलाल सरीखे नेता जींद में रैलियों का आयोजन करके हरियाणा में सियासी जंग शुरू करते रहे हैं। और अब इनेलो छोड़कर अपनी दूसरी पार्टी का ऐलान कर चुके सांसद दुष्यंत चौटाला भी 9 दिसंबर को जींद से ही अपनी सियासी जमीन तलाशेंगे। राजनीतिक दृष्टिकोण से चौटाला व चौधरी बीरेंद्र सिंह का क्षेत्र कहे जाने वाले जींद पहुंचे केजरीवाल ने इस बात के साफ संकेत दिए कि हरियाणा के राजनीतिक दल भले ही जातिवाद की लड़ाई में उलझे हुए हैं लेकिन उनका फोकस सभी को साथ लेकर चलने में होगा। वो जातिवाद, क्षैत्रवाद पर नही बल्कि सामाजिक मुद्दो पर ही राजनीति करेंगे। केजरीवाल ने जींद में सभी राजनीतिक दलों पर बरसते हुए कहा कि हरियाणा में किसी भी नेता ने आम व्यक्ति के हित की लड़ाई नही लड़ी। सभी दलों ने जातिवाद, क्षैत्रवाद पर फोकस रखा। केजरीवाल द्वारा जींद की धरती पर मजबूत दस्तक देकर न केवल दूसरे राजनीतिक दलों के सामने बड़ी लकीर खींची गई है बल्कि सामाजिक मुद्दो के सहारे आम लोगो की लड़ाई लडऩे की बात कहकर दूसरे दलों को भी अपनी रणनीति बदलने पर मजबूर कर दिया गया है।दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हरियाणा में हो रहे एन्हांसमैंट घोटाले के लिए सीधे तौर पर वर्तमान खट्टर सरकार के अलावा पूर्व की हुड्डा व चौटाला सरकारें भी जिम्मेदार हैं। यह करोड़ों रुपए का घोटाला है जिसमें सैक्टर वासियों व किसानों को लूटा जा रहा है। केजरीवाल रविवार को जींद के हैबतपुर रोड़ स्थित पार्क में हरियाणा स्टेट हुड्डा सैक्टर्स कांफीडरेशन द्वारा राज्यस्तरीय एन्हांसमैंट भगाओ आशियाना बचाओ रैली को संंबोधित कर रहे थे।

No comments